छब्बीस जनवरी मनाबो : वंदे मातरम गाबोन

  • छब्बीस जनवरी मनाबो
    छब्बीस जनवरी मनाबो संगी, तिरंगा हम फहराबो।
    तीन रंग के हमर तिरंगा, एकर मान बढाबो ।
    ए झंडा ल पाये खातिर, कतको जान गंवाइस।
    कतको बीर बलिदान होगे, तब आजादी आइस ।
    हमर तिरंगा सबले प्यारा , लहर लहर लहराबो।
    छब्बीस जनवरी मनाबो संगी, तिरंगा हम फहराबो।
    चंद्रशेखर आजाद भगतसिंह, जनता ल जुरियाइस
    वन्दे मातरम के नारा ल, जगा जगा लगाइस ।
    सुभाष चंद्र बोस ह संगी, जय हिन्द के नारा बोलाइस।
    आजादी ल पाये खातिर, जनता ल जगाइस ।
    वंदे मातरम के गाना ल, मिलके सबझन गाबो ।
    छब्बीस जनवरी मनाबो संगी, तिरंगा हम फहराबो।
    सत्य अहिंसा के बात ल , गांधी बबा बताइस ।
    स्वदेशी अपनाये खातिर, चरखा खूब चलाइस ।
    देश ल आजाद करे बर, सत्याग्रह अपनाइस ।
    गाँव गाँव में जाके , आजादी के अलख जगाइस ।
    कतका दुख ल पाइस सबझन, कइसे हम भुलाबो
    छब्बीस जनवरी मनाबो संगी,तिरंगा हम फहराबो।
    प्रिया देवांगन “प्रियू”
    गोपीबंद पारा पंडरिया
    जिला — कबीरधाम ( छ ग )
    Email — priyadewangan1997@gmail.com
  • वंदे मातरम गाबोन
    तीन रंग के हमर तिरंगा, सान से हम लहराबोन।
    वंदे मातरम वंदे मातरम वंदे मातरम गाबोन
    देश हमर आजाद करे बर, कतको जान गंवाइस ।
    बीर सपूत बलिदानी होगे, तब आजादी आइस ।
    नइ झुकन देन हम तिरंगा , फहर फहर फहराबोन
    वंदे मातरम वंदे मातरम वंदे मातरम गाबोन ।

    सन अटठारा सौ संतावन, लक्ष्मी बाई जब आइस
    काली बन के टूट परीस वो, सबला मजा चखाइस
    दे दीस अपन जान के बाजी ,कइसे हम भुलाबोन ।
    वंदे मातरम वंदे मातरम वंदे मातरम गाबोन ।

    फिरंगी के राज में सबझन , कतका दुख ल पाइस।
    राजगुरु अऊ भगत सिंह ल, फांसी में चढाइस।
    हांसत हांसत झूलगे झूला , कुरबानी कहां भुलाबोन ।
    वंदे मातरम वंदे मातरम वंदे मातरम गाबोन ।

    सत्य अहिंसा के पुजारी, गांधी बबा ह आइस ।
    स्वदेशी के मान रखे बर,चरखा खूब चलाइस ।
    ओकर संदेश नइ जाय बेकार , स्वच्छता ल अपनाबोन ।
    वंदे मातरम वंदे मातरम वंदे मातरम गाबोन ।

    आन बान अऊ सान तिरंगा, एकर मान बढाबोन
    जान के बाजी देके अपन, एला हम बचाबोन ।
    रखबो एकर लाज हमन अब ,लहर लहर लहराबोन
    वंदे मातरम वंदे मातरम वंदे मातरम गाबोन ।

    तीन रंग के हमर तिरंगा, सान से हम लहराबोन
    वंदे मातरम वंदे मातरम वंदे मातरम गाबोन ।

    महेन्द्र देवांगन “माटी”
    गोपीबंद पारा पंडरिया
    जिला — कबीरधाम (छ ग )
    पिन – 491559
    मो नं — 8602407353
    Email – mahendradewanganmati@gmail.com

Related posts:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *