बात सुनव छत्तीसगढ़ के, बन औषधि के जड़ के

बात सुनव छत्तीसगढ़ के बन औषधी के जड़ के  ‘बसदेवा धुन’

कबि – हेमंत वैष्‍णव, संपादक बालगुडी छत्‍तीसगढ़ 

बात सुनव छत्तीसगढ़ के

बन औषधि के जड़ के             बात सुनव

1. जड़ कांदा फल फूल अउ डार

   बीज छाल अउ पाना म उपचार     बात सुनव

   औषधि ले जुरे हे जिनगी के तार

   राज बर आय के अधार             बात सुनव

   बेरा रहत पहिचान करव

   झन नंदावय धियान धरव

   जिंकर बिना जिनगी जही डोल

   वन संपदा हे अनमोल               बात सुनव.

   बात सुनव छत्तीसगढ़ के …………….

  2. खांसी दमा म करे असर

   अडूसा के सुक्खा फर                बात सुनव

   कुनैन चिरैता के गुन हे सार

   दूर करे जी जर बुखार              बात सुनव

   सर्पगंधा के काम ल जान

   अनिद्रा ब्लडप्रेशर के अचूक बान

   जड़ जूड़ सरदी अउ खांसी

   जेमा काट करे जुलसी              बात सुनव.

   बात सुनव छत्तीसगढ़ के……….

3. सदा बहार के फूल अउ पान

  सुगर बिमारी म आथे काम           बात सुनव

  पीपर मुल ह बढाथय भूख

  रसौत जड़ी म घाव जाथे सूख        बात सुनव.

  बात सुनव छत्‍तीसगढ़ के …………………….

  चमड़ी  म फोड़ा फुन्सी दाग

  लीम पाना छिलका म जाथे भाग

  बेल ल खा पेट पिराये म

  काली मुसली ताकत बढ़ाये म        बात सुनव.

  बात सुनव छत्तीसगढ़ के ……………

4. बन औषधि अउ बीजा साल

  मधुमेह बर करे कमाल               बात सुनव

  रतिगुल पेट दरद हरय

  कफ जुकाम म काम करय            बात संनव

  जब पेट मं कृमि करे अतलंग

  बन के फल खा बाय बिडंग

  ब्राम्ही बुद्धि बढ़इया ए

  हडडोड़ ह हडडी जोड़इया ए         बात सुनव.

  बात सुनव छत्तीसगढ़ के ………………..

5. बड़े गोखरू मं बात उपचार

  अउ जलन म मूत्र विकार             बात सुनव

  पेट के गरमी बर हे भृंगराज

  रसना मं कटे बिमारी बात            बात सुनव.

  मिरगी बर अउ दांत पीरा

  अइसन बर जर हे अकरकरा

  सांप बिच्छू जहर बर इशर्ष वर मूल

  सांसनली सूजन बर धतुरा फूल        बात सुनव

  बात सुनव छत्तीसगढ़ के………………..

6. बहेड़ा म होथे उपचार

  जेन ल होवय अपच अतिसार         बात सुनव.

  जंगली हरदी के लेप म गुन

  चोट लगे म रूक जाथे खून          बात सुनव

  लीवर टानिक यकृत विकार

  सरफोंक जेकर उपचार

  अडूसा म कटे बलगम खांसी

  पुस्टई उत्तेजक हे जटामासी          बात सुनव

  बात सुनव छत्तीसगढ़ के ………

7. सफेद मुसली हे पुस्टई अउ प्रदरनास

  शक्ति दायी औषधि हे कंवास         बात सुनव

  दर्द निवारक जंगली प्याज

  बातची मेटाये चमड़ी के दाग          बात सुनव

  बन औषधि के गुन ल जान

  कतिक नांव के करंव बखान

  जिंहा जड़ी बूटी के झांकी हे

  कतको ठन के खोज बाकी हे         बात सुनव

  बात सुनव छत्तीसगढ़ के

  बन औषधि के जड़ के               बात सुनव

Related posts:

  • बने बन के दवई के जनकारी देय गा वैष्णव जी
    थोकिन मोरो बर दवई बता ना गा,
    अऊ हो सकय ता अमरा दे्बे त बने हो जाही
    “देवारी तिहार मा खाएवं हंव आनी-बानी
    डाक्टर किहिस तोर सुगर हां बढगे जानी
    बने दवई मिलही त कलयान हो जाही
    नई त मरे नई मि्ले बाबु तोला पानी”

Leave a Reply