निर्वाचन आयोग ल छुट्टी खातिर आवेदन पत्र

सेवा में, सिरीमान मुखिया निर्वाचन आयुक्त महोदय, भारत निर्वाचन आयोग, नई दिल्ली। बिसय : विधानसभा चुनाव मतगणना के दिन सार्वजनिक छुट्टी घोसित करे बाबत। महोदय जी, बिनती हवय के आपके आयोग ह मतदान के दिन सार्वजनिक छुट्टी के घोसना करथे। इही किसम ले मतगणना के दिन घलो सार्वजनिक छुट्टी के घोसना होना चाही। काबर के मतदान म तो एक मनखे ल जादा ले जादा आधच घंटा लगथे फेर मतगणना पूरा दिनभर के कार्यक्रम होथे। लोकतंत्र म चुनाव ले बड़े अउ कोनो महापरब नइ होवय। मतगणना के दिन ये महापरब के…

पूरा पढ़व ..

गजल

जम्मो नवा पुराना हावै। बात हमला दुहराना हावै । लूट सको तो लुट लौ भैया, सरकारी खजाना हावै । झूठ-लबारी कहि के सबला सत्ता तो हथियाना हावै। कतको अकन बात हर उनकर लागे गजब बचकाना हावै। पेट पलइया मांग करे तब, रंग – रंग के बहाना हावै। सब के मुँह म बात एके हे, उलटा इहाँ जमाना हावै। अब भाई के गोठ- बात मा घलो सियासी ताना हावै । रंग-रंग के =तरह-तरह के बलदाऊ राम साहू

पूरा पढ़व ..