तय जवान कहाबे

जा मोर बेटा तय जवान कहाबे,
माता के रक्षा बर जान गंवाबे
जा मोर बेटा तय जवान कहाबे।

दुनिया मा किसम-किसम,
के मनखे भरे हे
कानो हे गरीबहा त,
कानो धन ला धरे हे,
अइसन के बीच रही,
जिछुटठा झन कहाबे
जा मोर बेटा तय जवान कहाबे।

मालिक ला गुण नई लागयए
जबरन खिसियाही गा
थोरेक जादा कमाबे त,
दुनिया सिसियाही गा
अइसन अनदेखना के,
तीर झन ओधियाबे
जा मोर बेटा तय जवान कहाबे।

पइसा के राहत ले जी,
तीर मा ओधियाही गा
हो जाबे गरीबहा त,
मुंहू ला टेंडवाही गा
अइसन मिठलबरा ला,
का संगी तय बनाबे
जा मोर बेटा तय जवान कहाबे।

जबरन के गोठ मा गा,
झगड़ा हा बढ़ जाथे,
चारी-fनंदा करत-करत,
मार-काट मा उतर जाथे
अइसन दानव मन ले,
दुरिहा तय जाबे
जा मोर बेटा तय जवान कहाबे।

खाये के कतको फेर,
मेंड़ पार बर झगड़ा हे
म्ंागनी मा दिन कटत फेर,
दिखाए बर नखरा हे
अइसन के तीर रही,
का भाग तय जगाबे
जा मोर बेटा तय जवान कहाबे।

छल कपट मा अघवा फेर,
दिखे मा सिधवा गा
लहू हे लड़ैया कस,
दिखाए मा बुढ़वा गा
अइसन मुहुलुकवा के,
का गोठ बतियाबे
जा मोर बेटा तय जवान कहाबे।

किसान बर किसानी,
सियान बर सियानी
बइरी बर बइरी,
मितान बर मितानी
सत के रद्दा मा चलके,
का नाम तय कमाबे
जा मोर बेटा तय जवान कहाबे।

दाई के गोठ ला सुनके बेटा हा कहिथे –

तोर असन ये दुनिया मा,
दाई कहुं हो जाही
बइठे राज करइया बर,
कल्लाई हो जाही
तोर करू ये बोली ला,
अमरित मय बनाहूं
जानत हंव दाई मैं जवान कवाहूं।

दाई मोर ये बचन हावय,
बिजय होके आहूं मय
रही परान जब तक ले,
हार नई मानहूं मय
माता के रक्षा बर,
बैरी ले जूझ जाहूं
जावत हंव दाई मैं जवान कहाहूं।

कहूं मर जाहूं त,
आसूं झन बोहाबे वो,
राम नाम सत् के बदला,
बाजा तय बजवाबे वो
हे बिनती माटी ले,
तोर बेटा बन के आहूं
जानत हंव दाई मैं जवान कहाहूं।

माता के रक्षा बर,
बैरी ले जूझ जाहूं
संसो झन कर इही,
माटी मा फेर आहूं
जानत हंव दाई मैं जवान कहाहूं।

भोलाराम साहू

परिचय

Bhola Ram Sahuनाम : भोलाराम साहू
पिता : श्री दाऊलाल साहू
माता : श्रीमती जानकी बाई
जन्म सन् : 05/10/1988
जन्म स्थान : हसदा 2, (अभनपुर)
शिक्षा : एम0 ए0 हिन्दी साहित्य एवं राजनीति शास्त्र (काव्योपाध्याय हिरालाल महाविद्यालय अभनपुर जिला रायपुर)
तकनीकी शिक्षा : स्टेनो टाईपिस्ट (अंग्रेजी)
(शासकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था रायपुर छ0ग0)
लेखन विधा : गीत, कविता, नई कविता, लघुकथा, कहानी, व्यंग्य, नाटक
भाषा : हिन्दी एवं छत्तीसगढ़
प्रकाशन एवं
प्रसारण : देशभर के समाचार-पत्र, पत्रिकाओं में निरंतर लेख प्रकाशित एवं आकाशवाणी रायपुर, दूरदर्शन रायपुर एवं अन्य टीवी चैनलों में कार्यक्रम प्रसारित
उपलब्धियाँ : नवोदित रचनाकार सम्मान
महिमा भूषण साहित्य सम्मान
काव्य सुधा साहित्य सम्मान
संबद्ध : संगम साहित्य एवं सांस्कृतिक समिति मगरलोड़ कुरूद जिला – धमतरी (छ0ग0)
नव उजियारा साहित्यिक समिति रायपुर (छ0ग0)
हिन्दी साहित्य समिति रायपुर (छ0ग0)
पता : ग्राम व पोस्ट – हसदा 2, थाना – अभनपुर,
जिला – रायपुर (छ0ग0), पिन कोड – 493661
मोबाईल : 09630012633,  09301812633
कार्य स्थल : महानदी भवन, नया मंत्रालय रायपुर (छ0ग0)

Related posts:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *