ग़ज़ल : उत्तर माढ़े हे सवाल के

हो गे चुनाव ये साल के।
उत्तर माढ़े हे, सवाल के।

बहुत चिकनाईस बात मा
चिनहा ह दिखत हे, गाल के।

आज हम कौन ल सँहरावन
जम्मो हावै टेढ़ा चाल के।

किस्सा सोसन के भूला के,
रक्खौ लहू ला उबाल के।

झन धरौ कौनो के पाँव ल,
अपन ला रक्खौ सँभाल के।

बलदाऊ राम साहू

Related posts

Leave a Comment