प्रयोजनमूलक छत्तीसगढ़ी की शब्दावली – सर्वनाम

छत्तीसगढ़ी के सर्वनाम Chhattisgarhi pronouns
मैं / मैं हर (मैं) – मैं रहपुर जावत रहेंव।
हमन (हम) – हमन काली डोंगरी जाबो ।
तैं / लूँ /तें हर (तुम) – तैं काय कहत रहे ?
तुमन(आप लोग) – तुमह तभे बनही।
ओ / ओहर (वह) – ओर सुते हे।
ओमन (वे) – ओमन नई मानिन।
ए/एहर (यह) – एहर बिहनिया रोवत हे।
एमन (ये) – एमन गम्मत करड्डया आय।

शोधार्थी – राजेन्‍द्र कुमार काले, रायपुर. निदेशक – चित्‍तरंजन कर

प्रयोजनमूलक छत्तीसगढ़ी की शब्दावली – मुहावरे
प्रयोजनमूलक छत्तीसगढ़ी की शब्दावली – विभक्तियाँ
प्रयोजनमूलक छत्तीसगढ़ी की शब्दावली – अव्यय
प्रयोजनमूलक छत्तीसगढ़ी की शब्दावली – सर्वनाम
प्रयोजनमूलक छत्तीसगढ़ी की शब्दावली – आस्था, अंधविश्वास, बीमारियाँ
प्रयोजनमूलक छत्तीसगढ़ी की शब्दावली – वर्जनाएँ
प्रयोजनमूलक छत्तीसगढ़ी की शब्दावली – क्रिया
प्रयोजनमूलक छत्तीसगढ़ी की शब्दावली – गीत, नृत्य
प्रयोजनमूलक छत्तीसगढ़ी की शब्दावली – संस्कार

संघरा-मिंझरा

Leave a Comment