घटारानी हावे तोर नांव

धसकुड़ मं बिराजे ओ,घटारानी हावे तोर नांव…२
चिरई-चिरगुण चिंव-चाँव करत हे…२
मईयां मईयां रटे नांव…२
धसकुड़ मं बिराजे ओ,घटारानी हावे तोर नांव…२

झरझर-झरझर झरना चलत हे,तोर,
तोर अँगना अऊ दुवारी ओ…२
सुर-सुर-सुर-सुर पवन चलत हे,
जुड़ चले पुरवाई ओ…२
बघुवा भालू तोर रखवारी करत हे…२
करत हावे हांव-हांव…२
धसकुड़ मं बिराजे ओ,घटारानी हावे तोर नांव…२

हरियर-हरियर रूख राई दिखत हे,
चारो मुंड़ा चारो कोती ओ…२
रीग-बीग-रीग-बीग जोत जलत हे,
अँगना बरे तोर जोति ओ…२
महर-महल तोर अँगना करत हे…२
बगिया हावे तोर गांव…२
धसकुड़ मं बिराजे ओ,घटारानी हावे तोर नांव…२

चईत कुंवार मं मेला लगथे,
तोर अँगना तोर दुवारी ओ…२
लाखों भक्तन दरश बर आथे,
लईका सियान नर नारी ओ…२
गोकुल साहू तोर जस गावत हे…२
चरण पखारे पांव…२
धसकुड़ मं बिराजे ओ,घटारानी हावे तोर नांव…२
चिरई-चिरगुण चिंव-चाँव करत…२
मईयां मईयां रटे नांव…२
धसकुड़ मं बिराजे ओ,घटारानी हावे तोर नांव…2

गोकुल राम साहू
धुरसा-राजिम (घटारानी)
जिला-गरियाबंद (छत्तीसगढ़)
मों.9009047156

संघरा-मिंझरा

Leave a Comment