समारू कका आई पी एल मैच के दिवाना

Hemant Vaishnavसमारू कका – हालो…हालो….
महराज- हलो…कौन?
समारू कका – या मोला भाखा ल नई ओरखत हस का महराज, मय समारू बोलत हवं गांव ले.
महराज – समारू कका जय जोहार.
समारू कका- जय जोहार महराज.
महराज – अब्बड़ दिन म फोन करे समारू कका.
समारू कका – हव महराज मोबईल के बच्चादानी म सूजन आगे रहीस त मोबईल नई चलत रहीस एदे नवा बच्चादानी डलवाय हवं.
महराज- मोबाईल के बच्चादानी म सूजन, ये का होथे कका?
समारू कका – मोबईल के बच्चा दानी माने बैटरी महराज, मोबईल के बैटरी नगत फूल गे रहीस अउ खराब होगे, त नई चलत रहीस, ये दे नवा बैटरी डलवाय हवं त बने चलत हे.
महराज – सुनाव कका कइसे फोन करे हव.
समारू कका – तय त जानथस महराज मय किरकेट के दिवाना हवं तेला…
महराज – हव जानत हवं कका.
समारू कका – जानत हवं कथस अउ रईपुर म रहिके रईपुर म आई पील मैच होवईया हे कहिके एको दिन फोन नई करे महराजण्‍
महाराज – आई पील नहीं कका आई पी एल मैच होवईया हे.
समारू कका – हां महराज वईसन आई पी एल मैच.. नाम से का करे बर हे महराज अपन ल देखे से मतलब हे, अउ ईण्डिया टीम ल जिताना हे अउ पाकिस्तान ल हराना हे.
महाराज – पाकिस्तान के टीम खेले बर नई आवत रे ददा, ईण्डिया ह जीतही, मैच पुणे वारियर्स अउ दिल्ली डेयरडेविल्सि के बीच होही.
समारू कका – दिल्ली दुध डेयरी के मैच होय चाहे कहिचों के होय, देखना हे तेला जानथन महराज.
महाराज – तोर मोबाईल के अब्बड़ पईसा कटगे होही कका.
समारू कका – कटन देना महराज, किरकेट ले बड़ के थोरे हे, दू सौ रूपिया के कुकरी ल मार देथन एक टईम के साग बर, सुन न महराज रईपुर के मैच म पूनम पाण्डे घलो आही का?
महराज – अरे नई जानव रे ददा आही के नई आही तेला.
समारू कका – बिरोधी पारटी मन बिरोध करही कहिके डाक्टर साहब नई बलईस होही महराज, तयं मोबईल नंबर नई रखे हस का महराज, पूनम पाण्डे के?
महाराज – नई रखे हवं मोर ददा… टिकट खरीदे हस कका, क्रिकेट देखे बर?
समारू कका – अच्छा मजाक करथस महराज, सरकार नवा राजधानी म अतेक बड़ राज्योत्सव म
करीना कपूर कार्यक्रम म टिकट नई रखे रहीस त किरकेट देखे बर टिकट राखही?
महाराज – मय मजाक नई करत हवं कका, कोनो ल पूछ ले स्टेडियम के गेट म जेन आई पी एल मैच के टिकट देखाही उही ल खुसरन दीही…
समारू कका – अच्छा अब समझेव ”आई पी एल” अउ ”बी पी एल” नाव ह मैच खात हे मतलब ये, के बी पी एल कार्ड देखाय म भीतर जान दिही, महराज हमर राज म बी पी एल वाला जादा हे, इही पाय आई पी एल इहां करवात हे.
महाराज – अईसन कोनो बात नईए कका…भरम म झन रा, तोला क्रिकेट देखना हे त कम से चार पांच हजार के टिकट कटवाबे, तभे खुसरन दिही, अउ सीट म बईठन दिही
समारू कका – सीट म नई बईठन दिही त, कम से कम बी पी एल वाला मन ल बोरा दसा के भिंया म बईठन तो दिही महराज, हां एक ठन बात सुरता आगे टीवी म देखात रहीस महाराष्टो के उप मुख्यमंत्री कइसे उप मूतमंत्री टईप कइसे अलकरहा बयान दे परे रहीस महराज…..? केजरीवाल दिल्ली म भूख हड़ताल म बईठे तेकर का होईस महराज?
महाराज – अरे छोड़ कका ओ बात ल क्रिकेट के बारे बात चलत हे, ते कहां राजनीति म कूद जथस.
समारू कका – हां कतका चार पांच हजार तक लग जाही काहत रेहे टिकट बर, बिन टिकट के कोन्टा कान्टी कोती ले भुलके के जघा त होही महराज.
महाराज – कोनो कोती ले नई खुसर सकस कका, रायपुर ले स्टेडियम तक कड़ा सुरक्षा रही.
समारू कका – रायपुर कोती ले कड़ा सुरक्षा हे त आरंग कोती ले खुसरे के जघा होही उहीती ले खुसर जाबो महराज.
महाराज – समझस काबर नहीं कका, नई खुसर सकत, ना उहू डाहर पुलिस मन पहरा रही पकड़ लिही.
समारू कका – अइसे कइसे पकड़ लिही, अरे हमू डाक्‍टर साहब के आदमी अन, हम गांव के पंच अन कहिके नई बताबो जी.
महाराज – अब तोर मरजी कका, तयं जान
समारू कका – महाराज.. महराज एक उदिम ले किरकेट देख सकत हवं बड़े बड़े हस्पीटल म हमर स्मार्ट कारड ल देख गेट म बन्दूक धरे रथे तेमन सेलूट मारथे अउ सोज्झे खुसरन देथे
त किरकेट सटेडियम वाला म खुसरन नई दीही.
महराज – अरे नहीं रे ददा, स्मार्ट कार्ड घलो काम नई करय उहां जाना हे त चार हजार पांच हजार के टिकट खरीदे ल परही त भीतरी म खुसरन दीही.
समारू कका – ले का होईस त टिकट बेचईया मन हमर स्मार्ट कार्ड म मशीन ले पईसा ल नी काट लीहि.
महराज – अरे नहीं कका, ये कारड ह ईलाज कराय बर दे हे.
समारू कका – हम बीमारेच नई परत हन त हमर गलती थोरे ए महराज, वइसे भी स्मार्ट कार्ड के पईसा सरकार के ये त, टिकट कटाबो तभो सरकारे करा त जाना हे, महराज सोना के रेट दिनोदिन कम होवत हे, मय सुने हवं चुनाव के पहिली सरकार बी पी एल कारड वाला
मन ला सोना घलो बांटही .. सिरतोन बात ए का?
महाराज – मय नई जानव मोर बाप का का बांटही तेला, तयं क्रिकेट के बारे म पुछत हस तेला मय बतात जात हवं.
समारू – ले महराज मय सोना बांटही के नई तेला 108 नंबर म फोन करके बाद म पूछ लूहूं तयं किरकेट के बारे में बता, वइसे का पहिन के आना चाहिये महराज किरकेट देखे बर?
महाराज – कुछू होय कका… का पहिन के आबे ते जरूरी नईए, पहिन के आबे ते जादा जरूरी हे.
समारू कका – नहीं महराज पहिली बेर चीयर गर्ल के नाचा देखबो ना महराज, हम ओ मन ल बकायदा मुजरा घलो देबो, वो मन हमला ठेठ गांव वाला मत समझे ना ग, उंखरे तीर के जघा ल पोगरा के बईठ जाबो अउ मस्त एक टक नाचा देखबो, तब गांव आके सबला बताबो का का
देखे हन तेला.
महराज – देख के समझा देथव कोनो ल जादा बेर ले एकटक देखना काननी अपराध हे लफड़ा म फंसबे त नई बताय रेहे झन कहिबे.
समारू कका – अवईया चुनाव म सिरतोन म मोदी ह परधानमंत्री बन जाही का महराज.
महराज – कका मोर मोबाईल के बैटरी चार्ज सिरावत हे.
समारू कका – ले महराज अब एती ओती बात नई पुछव, अपन ल क्रिकेट देखे से मतलब हे. निर्मल बाबा काय करत हे ते, सनी लोन के कोन पिक्चपर अवईया हे, तेकर से का करे बरे हे है नी महराज.
महराज – तयं कका अब गोठियावत पटरी ले खिसल जाथस.
समारू कका – अब नई खिसलव महराज… हलो… हलो…. हलो…. लागथे महराज के बैटरी डउन होगे.

हेमंत वैष्‍णव.

Related posts:

6 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *