मतदान : चौपई छंद (जयकारी छंद)

देश करत हावय अह्वान।
बहुत जरूरी हे मतदान।

मतदाता बनही हुँशियार।
लोक स्वप्न होही साकार।

लोकतंत्र के जीव परान।
मतदाता मत अउ मतदान।

मत दे बर झन छूटँय लोग।
कहिथे निर्वाचन आयोग।

उम्मर हो गय अठरा साल।
मतदाता बन करव कमाल।

वोटिंग तिथि के रखलौ ध्यान।
खच्चित करना हे मतदान।

काज जरूरी हे झन टार।
वोट, बूथ मा जा के डार।

सीयू बीयू वी वी पेट।
बिस्वसनी चौबिस कैरेट।

एक बात के राखन ध्यान।
शान्ति पूर्ण होवय मतदान।

पाँच साल मा आय चुनाव।
सुग्घर जनमत दे लहुटाव।

सुखदेव सिंह अहिलेश्वर”अँजोर”
गोरखपुर,कवर्धा छत्तीसगढ़
मोबा-9685216602
sukhdev.singh.ahileshver31@gmail.com

संघरा-मिंझरा

Leave a Comment