चुनाव के चिल्लाई म मतदान करना जरूरी हे

हमर समाज म कुछु के महत्व होवय चाहे झन होवय, तभोले चुनाव के बढ़ महत्व होथे, चुनाव अइसे चीज हे जेखर ले हमन ह कुछु भी अपन मन-पसंद चीज ल चुने के मौका मिलथे, जेखर सब ले बड़े फायदा होथे हमर समाज अउ विकास बर, नेता चुने के अधिकार हमन ल हे, त हमर इहा के नेता मन घलोक कम नइ हे जइसे चुनाव के बेरा तीर म आथे त ओहु मन मनखे के तीर तखार म मंडराए ल चालू कर देथे, जइसने पानी गिरथे त मेढ़क मन नरियात-नरियात नदिया नरवा ले बाहिर निकलथे, वइसने चुनाव आये के बेरा म बड़का-छोटे सब्बो नेता मन अपन घर-दुवारी ले बाहिर निकल के गली-गली घूम के धुर्रा घलोक ल मजा ले चाटथे। अउ जनता ल नरिया-नरिया के हलाकान कर देथे, तहले चुनाव जीते के बाद वही
नेता मन दुरिहा- दुरिहा तक दिखाइ नइ देवय।
त येही बेरा रहिथे जेमा हमन ल अपन अधिकार के बारे म जाने ल अउ समझे ल लगही, अउ चुनाव म अपन अधिकार के उपयोग कर के मतदान करे ल चाही, तभे हमन अपन विकास ल बने ले कर सकथन, अउ अपन देश समाज ल बने नेता के हाथ म शोप सकथन, कही हमन अपन अधिकार के उपयोग नइ कर के मतदान नइ देबो अउ मतदान के दिन ले हमन ल का करना हे कइ के सुते रहिबो त जेन नेता ह दूसर के मतदान ले चुन के हमर बीच म अहि त ओहा पूरा साल भर सुते रही अउ तुहर जिनगी ल घलोक नरक बना डारही, येखरे बर अपन अधिकार अपन मत के उपयोग करके खुसी के संग चुनाव म सामिल होहु। अउ मतदान करहु अपन मत अपन अधिकार के उपयोग करे के बेरा आगे हे।
जय जोहार जय छत्तीसगढ़,
मोर वोट मोर राज के विकास।
मोर अधिकार हे, मतदान करना ये बार हे।

अनिल कुमार पाली
तारबाहर बिलासपुर।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *