बखरी के तुमा नार बरोबर मन झूमरे

बखरी के तुमा नार बरोबर मन झूमरेे, डोंगरी के पाके चार ले जा लान दे बे । मया के बोली भरोसा भारी रे कहूँ दगा देबे राजा लगा लेहूँ फाँसी । बखरी के तुमा नार … हम तैं आगू जमाना पाछू रे कोनो पावे नहीं बांध ले मया म काहू रे । डोंगरी के पाके चार … तोर मोर जोडी गढ लागे भगवान, गोरी बइंहा म गोदना गोदाहूँ तेरा नाम । बखरी के तुमा नार … मऊहा के झरती कोवा के फरती … फागुन लगती राजा आ जाबे जल्दी ।…

पूरा पढ़व ..

वारे मोर पंडकी मैना संग लक्ष्मण मस्तूरिहा के 9 लोकप्रिय गीत

भारत मां के रतन बेटा, बढिया अंव रे (Bharat man ke ratan beta badhiya anv re) मंय छत्तीसगढिया अंब गा, मंय छत्तीसगढिया अंव रे भारत मां के रतन बेटा, बढिया अंव रे ॥ सोन उगाथंव माटी खाथंव मान ल देके हांसी पाथंव खेती खार संग मोर मितानी घाम सयारू हितवां पानी मोर इही जिनगानी मंय नंगरिहा अंव गा। किसन के बडे भइया हलधरिया अंव रे ॥ देस मया के भारत गीता दाइ ददा मोर राम अउ सीता दया मया मोर परवा छानी परके सेवा मोर सिखानी घाम पानी सहवइया मंय…

पूरा पढ़व ..