गुन ला गा लो : महावीर अग्रवाल के गीत

जोन माटी मां जनम धरे हो, वोकर गुन ला गा लो वोकर गुन ला गा लो रे भैय्या, वोकर गुन ला गा लो। इहंचे खेलेन गिल्ली डंडा, अऊ डंडा पचरंगा इही हमर बर तीरथ धाम हे इही हवे जी गंगा पांव परो महतारी के अऊं माथे तिलक लगा लो माथे तिलक लगाओ भैय्या, माथे तिलक लगा लो। धान के हावै […]

Continue reading »